Home » Uncategorized » List of Ministers in UP Government 2017
List of Ministers in UP Government 2017

List of Ministers in UP Government 2017

(News Rating Point) 19.03.2017
महंत आदित्यनाथ योगी ने उत्तर प्रदेश की कमान संभाल ली है. लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में रविवार को आदित्यनाथ के अलावा दो उपमुख्यमंत्रियों ने शपथ ली. उनके मंत्रीमंडल में 44 मंत्रियों ने शपथ ली. इसमें से पांच महिलाओं को भी मंत्री पद दिया गया है. योगी की मंत्रिपरिषद में 22 कैबिनेट, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 13 राज्यमंत्रियों ने शपथ ली. अगर पेशे के लिहाज से देखें तो 13 व्यवसायी, 11 किसान, 7 समाजसेवी, 5 अधिवक्ता और 4 शिक्षक मंत्रिमंडल में शामिल किए गए हैं जबकि दो मंत्री खिलाड़ी, एक डॉक्टर हैं.
नौ ‘बाहरी’ नेताओं को मिला मंत्री पद
सपा, कांग्रेस, बसपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुए नौ दलबदलुओं को भी मंत्री पद दिया गया है. इसमें रीता बहुगुणा जोशी, स्वामी प्रसाद मौर्य, बृजेश पाठक, नंदगोपाल नंदी, दारा सिंह चौहान, चौधरी लक्ष्मी नारायण, एसपी सिंह बघेल, धर्म सिंह सैनी और अनिल राजभर शामिल हैं.
लखनऊ से सबसे ज्यादा 7 मिनिस्टर
आदित्यनाथ योगी के मंत्रिमंडल में लखनऊ से सबसे ज्यादा सात मंत्री बनाए गए हैं. लखनऊ से दिनेश शर्मा, बृजेश पाठक, रीता बहुगुणा जोशी, आशुतोष टंडन, स्वाति सिंह, महेंद्र कुमार सिंह और मोहसिन रजा शामिल हैं.
मंत्रियों में 25 अगड़े तो 15 पिछड़े, 5 दलित
आदित्यनाथ योगी के मंत्रिमंडल में जातिगत समीकरण भी बखूबी साधा गया है. 25 अगड़े, 15 पिछड़े, 5 दलित, 1 मुस्लिम और एक सिख को शामिल किया गया है. अगड़ों में ब्राह्मण 7, ठाकुर 8, वैश्य 4, भूमिहार 2, खत्री 3 और कायस्थ 1 मंत्री है. पिछड़ों में 3 कुर्मी, 2 मौर्य, 2 लोध, 2 जाट, 2 राजभर, 1-1 नोनिया चौहान, निषाद, सैनी और यादव मंत्री हैं.
सीएम योगी समेत 5 मंत्री किसी सदन के सदस्य नहीं
मुख्यमंत्री महंत आदित्यनाथ योगी, दोनों डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश शर्मा, मंत्री स्वतंत्र देव सिंह और मोहसिन रजा किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं. इन्हें 6 माह में विधानमंडल का सदस्य बनना होगा.
सबसे युवा और सबसे बुजुर्ग मंत्री
मंत्रिपरिषद की औसत उम्र 54 साल है. यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के पौत्र संदीप सिंह राज्यमंत्री बनाए गए हैं. वे 26 साल के हैं और सबसे युवा हैं. वहीं, पूर्व क्रिकेटर और पूर्व सांसद चेतन चौहान सबसे बुजुर्ग हैं. वे 70 साल के हैं और उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. 44 वर्षीय श्रीकांत शर्मा कैबिनेट मंत्रियों में सबसे युवा हैं.
शनिवार को विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद आदित्यनाथ योगी ने राज्य के 21वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. मुख्यमंत्री के बाद केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा ने डिप्टी सीएम के रूप में शपथ ग्रहण की. इन तीनों के बाद 22 विधायकों ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली जबकि 24 राज्य मंत्रियों ने शपथग्रहण की.

22 कैबिनेट मंत्रियों ने ली शपथ.
सूर्य प्रताप शाही यूपी बीजेपी के अध्यक्ष रहे हैं और राज्य में बीजेपी के कद्दावर माने जाते हैं.
सुरेश खन्ना कैबिनेट मंत्री बने हैं. उन्हें RSS का करीबी माना जाता है.
स्वामी प्रसाद मौर्य को कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिला है. वे बीएसपी छोड़कर बीजेपी में आए थे.
सतीश महाना कैबिनेट मंत्री बने हैं. कानपुर से 7 बार विधायक बने हैं.
राजेश अग्रवाल कैबिनेट मंत्री बने हैं.  बरेली कैंट से विधायक बने हैं. अमित शाह और योगी के करीबी माने जाते हैं.
रीता बहुगुणा जोशी को कैबिनेट मंत्री का तोहफ़ा मिला है. चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आईं थी.
दारा सिंह चौहान मऊ की मधुबनी सीट से चुनाव जीते हैं. 2015 में बीएसपी छोड़कर बीजेपी में आए थे.
धर्मपाल सिंह राजनाथ सिंह और अमित शाह के करीबी माने जाते हैं. बीजेपी में पिछड़ी जाति के चेहरे हैं.
एसपी सिंह बघेल टूंडला विधानसभा सीट से बीजेपी के विधायक हैं. एसपी से बगावत कर बीजेपी में शामिल हुए थे.
सत्यदेव पचौरी कानपुर की गोविंदपुर सीट से जीते हैं. ABVP की राजनीति से जुड़े हैं. इस बार कैबिनेट मंत्री बने.
रमापति शास्त्री यूपी में पूर्व मंत्री रह चुके हैं. गौंडा के मनकापुर से चुनाव जीते हैं.
जयप्रताप सिंह सिद्धार्थनगर से चुनाव जीते हैं.
ओमप्रकाश राजभर गाजीपुर की जहूराबाद सीट से चुनाव जीते हैं. इन्होंने बीएसपी के नेता को हराया है.
बृजेश पाठक को भी कैबिनेट मंत्री बनाया गया है,  बृजेश पाठक लखनऊ विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष रह चुके हैं. लोकसभा और राज्यसभा का भी प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. बसपा छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे.
लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली है. मथुरा की छाता विधानसभा सीट से चुनाव जीते हैं.
चेतन चौहान भी टीम योगी में  कैबिनेट मंत्री बने हैं. उन्होंने नौगांव सीट से जीत हासिल की है. चेतन चौहान इंडियन क्रिकेट टीम के भी सदस्य रहे हैं.
श्रीकांत शर्मा को योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. श्रीकांत शर्मा हिमाचल प्रदेश के प्रभारी भी हैं.
राजेन्द्र प्रताप सिंह ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली है. वे चार बार विधायक रहे हैं.
सिद्धार्थनाथ सिंह को बीजेपी ने योगी मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री बनाया है, पूर्व पीएम लालबहादुर शास्त्री के परिवार से आते हैं.
मुकुट बिहारी शर्मा को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. बहराइच के कैसरगंज सीट से दूसरी बार चुनाव जीते हैं.
आशुतोष टंडन को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. वे बीजेपी नेता लालजी टंडन के बेटे हैं.
नंद गोपाल गुप्ता नंदी को बीजेपी सरकार ने कैबिनेट मंत्री नियुक्त किया है. चुनाव से पहले कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे.

9 राज्य मंत्रियों (स्वतंत्र प्रभार) ने शपथ ली
अनुपमा जायसवाल को योगी सरकार में राज्यमंत्री, स्वतंत्र प्रभार बनाया गया है. अनुपमा जायसवाल तराई इलाके से आती हैं.
सुरेश राणा  को राज्यमंत्री बनाया गया है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कद्दावर बीजेपी नेता हैं.
उपेन्द्र तिवारी को राज्यमंत्री बनाया गया है. उपेन्द्र तिवारी दूसरी बार चुनाव जीते हैं. यूपी का भूमिहार चेहरा माने जाते हैं.
डॉ महेन्द्र सिंह को बीजेपी सरकार में राज्यमंत्री बनाया गया है. यूपी विधान परिषद के सदस्य हैं.
स्वतंत्र देव सिंह को राज्यमंत्री पद बनाया गया. ABVP से जुड़े रहे हैं. इस समय किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं.
भूपेन्द्र सिंह चौधरी को राज्यमंत्री पद की शपथ दिलाई गई. यूपी विधान परिषद के सदस्य हैं.
धरम सिंह सैनी को बीजेपी ने राज्यमंत्री बनाया है. सहारनपुर के नकुड सीट से कांग्रेस के नेता इमरान मसूद को हराया है.
अनिल राजभर को राज्यमंत्री बनाया गया. राजभर समुदाय से ताल्लुक रखते हैं.
स्वाति सिंह योगी सरकार में राज्यमंत्री बनीं. लखनऊ की सरोजनी नगर से जीत हासिल की हैं. दयाशंकर सिंह की पत्नी हैं. दयाशंकर सिंह मायावती पर अभद्र टिप्पणी करने के चलते चर्चा में आये थे और बीजेपी ने उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया था. तब स्वाति ने मायावती के खिलाफ मोर्चा सम्भाला था और चर्चा में आ गयीं थीं.

13 लोगों को राज्य मंत्री बनाया गया
गुलाबो देवी को बीजेपी ने राज्यमंत्री बनाया है. यूपी की चंदौसी सीट से जीत हासिल की हैं.धोबी समुदाय से ताल्लुक रखती हैं.
जयप्रकाश निषाद को योगी मंत्रिमंडल में राज्यमंत्री बनाया है. देवरिया के रुद्रपुर से विधायक हैं. मल्लाह समुदाय से हैं.
अर्चना पांडेय को बीजेपी ने राज्यमंत्री बनाया है. सपा के गढ़ कन्नौज में बीजेपी के ब्राह्मण चेहरे के रुप में जानी जाती हैं.
जय कुमार जैकी को बीजेपी की योगी सरकार में राज्यमंत्री बनाया गया है. जयकुमार जैकी जहानाबाद सीट से विधायक हैं.
अतुल गर्ग को योगी सरकार में राज्यमंत्री बनाया गया है. गाजियाबाद शहर सीट से पहली बार विधायक बने हैं.
रणवेन्द्र प्रताप सिंह को राज्यमंत्री बनाया गया है. फतेहपुर के हुसैनगंज सीट से विधायक हैं.
नीलकंठ तिवारी को बीजेपी ने राज्यमंत्री बनाया है. पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से पहली बार किसी शख़्स को मंत्री बनाया गया है.
मोहसिन रजा को बीजेपी सरकार में राज्यमंत्री बनाया गया है, मोहसिन रजा अभी किसी सदन के सदस्य नहीं हैं.
गिरीश यादव को राज्यमंत्री बनाया गया है. जौनपुर सदर सीट से पहली बार चुनाव जीते हैं.
बलदेव सिंह ओलख को राज्यमंत्री बनाया गया है. ओलख ने बिलासपुर सीट से जीत हासिल की है. सिख समुदाय से आते हैं.
मनोहर लाल पंथ मन्नू कोरी को राज्यमत्री बनाया गया है. कोरी समुदाय से जुड़े हैं . बुंदेलखंड से संबंधित हैं.
संदीप सिंह को राज्यमंत्री बनाया गया है, अलीगढ़ के अतरौली सीट से निर्वाचित हुए हैं. कल्याण सिंह के पौत्र हैं.
सुरेश पासी को राज्यमंत्री बनाया गया है, सुरेश पासी अमेठी की जगदीशपुर सीट से पहली बार विधायक बने हैं. बीजेपी के दलित नेता हैं.

List of Ministers in UP Government 2017 Reviewed by on . (News Rating Point) 19.03.2017 महंत आदित्यनाथ योगी ने उत्तर प्रदेश की कमान संभाल ली है. लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में रविवार को आदित्यनाथ के अलावा दो उपमुख्य (News Rating Point) 19.03.2017 महंत आदित्यनाथ योगी ने उत्तर प्रदेश की कमान संभाल ली है. लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में रविवार को आदित्यनाथ के अलावा दो उपमुख्य Rating:

Leave a Comment

scroll to top